Placeholder canvas

Kuwait: विदेश में रहने वाले प्रवासियों की बढ़ी मुश्किल, अगर ऐसा हुआ तो रद्द हो जाएगा निवास परमिट

Kuwait ने एक घोषणा करी है और ये घोषणा परमिट या इकामा को रद्द करने को लेकर है। दरअसल, कुवैत ने घोषणा करते हुए जानकारी दी है कि 1 अगस्त के बाद छह महीने से अधिक समय तक विदेश में रहने वाले प्रवासियों के निवास परमिट या इकामा को रद्द कर देगा और इस बात की जानकारी एक अखबार ने दी है।

ये भी पढ़ें – दिवाली से पहले सस्ता हुआ सोना, चांदी के भाव भी गिरे, फटाफट चेक कर लें 10 ग्राम Gold की कीमत

कुवैत ने सर्कुलर जारी करके दी जानकारी 

अल जरीदा अखबार की एक रिपोर्ट के अनुसार, कुवैत के छह प्रशासनिक और सूचना प्रणाली के सामान्य विभाग के सभी इकामा विभागों को आंतरिक मंत्रालय द्वारा एक प्रशासनिक सर्कुलर जारी किया गया है, जिसमें अगस्त के बाद छह महीने से अधिक समय तक विदेश में रहने वाले प्रवासियों के निवास परमिट या इकामा को रद्द करने की बात कही गयी है।

वहीं इसमें सरकारी कर्मचारी, आश्रित, निवेशक, छात्र या स्व-प्रायोजित प्रवासी शामिल हैं। अल क़बस ने सरकारी सूत्रों का हवाला देते हुए कहा कि अगले 1 फरवरी से शुरू होने वाले इस कदम के स्वत: कार्यान्वयन के लिए उपाय किए गए हैं।

जनसांख्यिकीय असंतुलन के तहत लिया फैसला 

इसी के ये भी कहा है कि “जनसांख्यिकीय मेकअप का मुद्दा सर्वोच्च सिफारिशों के जवाब में पूरी तरह से जांच के अधीन है और अवैध लोगों को गिरफ्तार करने के लिए आंतरिक और सामाजिक मामलों के मंत्रालयों के बीच उच्च-स्तरीय समन्वय के बीच इकामा में अवैध व्यापार को सुखाने के लिए जोड़ा गया।

आपको बता दें, कुवैत की 4.6 मिलियन की कुल आबादी में विदेशी लगभग 3.4 मिलियन हैं। वहीं अधिकारियों ने देश में जनसांख्यिकीय असंतुलन को दूर करने के प्रयास तेज कर दिए हैं। हाल के महीनों में, कुवैत में विदेशियों के रोजगार पर अंकुश लगाने के आरोपों में वृद्धि हुई है कि प्रवासी श्रमिकों ने COVID-19 से आर्थिक नतीजों के बीच देश की बुनियादी सुविधाओं की सुविधाओं को प्रभावित किया है।

ये भी पढ़ें- अरब अमीरात के नागरिकों के लिए खुशखबरी, अब बिना वीजा के इस देश में मिलेगी फ्री एंट्री

Leave a Comment