Kuwait ने की बड़ी कार्रवाई, 13 प्रवासियों को निकाला देश से बाहर; जानिए वजह

कुवैत ने 13 प्रवासियों को देश से निर्वासित कर दिया और उनके नामों को फिर से देश में प्रवेश करने से ब्लेक लिस्ट की सूची में डाल दिया है, हालांकि इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि वो 13 प्रवासी किस देश के थे, जिन्हें कुवैत से निर्वासित किया गया है।

13 प्रवासियों को किया गया निर्वासित

अरब डेली के मुताबिक, सुरक्षा सूत्रों के अनुसार, अनुबंध करने वाली कंपनी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी, जिसने उन्हें कर्मशियल विजिट वीजा के तहत काम पर रखा था। इस वीजा के तहत किसी भी प्रवासी को काम पर नहीं रखा जा सकता है। दरअसल प्रवासियों ने वेतन न मिलने के बाद आ’त्म’ह’त्या की धम’की दी।

व्यावसायिक यात्रा वीजा पर मिला था काम

आंतरिक मंत्रालय के अनुसार,कामगारों के एक समूह ने सल्मिया में एक इमारत की ऊपरी मंजिल से कू’दने का प्रयास किया। हवाली सुरक्षा निदेशालय के महानिदेशक ब्रिगेडियर ज़ियाद तारिक और सल्मिया अग्निशमन विभाग के सुरक्षाकर्मियों ने घटना पर तुरंत प्रतिक्रिया दी।

एक ठेकेदार द्वारा उनके वेतन के अनियमित भुगतान के जवाब में, जिसने उन्हें एक व्यावसायिक यात्रा वीजा के तहत काम पर रखा था, पुलिस स्टेशन ने कामगारों के आ’त्म-नुकसान की ध’मकी की पुष्टि की।

अब बिना टेस्ट के नहीं जारी होगा वीजा

वहीं इसी बीच Kuwait ने एक घोषणा करी है और ये घोषणा जनसांख्यिकीय असंतुलन में सुधार की योजना के हिस्से के रूप में की गयी है। कुवैत द्वारा की गयी इस घोषणा के तहत वीजा जारी होने के पहले प्रवासियों के ज्ञान और कौशल का एक टेस्ट लिया जाएगा।

जानकारी के अनुसार, Kuwait के जनशक्ति के लिए सार्वजनिक प्राधिकरण के महानिदेशक, डॉ मुबारक अल-आज़मी ने इस घोषणा को लेकर जानकारी दी है कि आवेदक के पास उस नौकरी के बारे में अच्छा कौशल और ज्ञान होना चाहिए, जिसके लिए वह आवेदन कर रहा है। उन चीजों का टेस्ट लिया जाएगा। वहीं अल कबास की एक रिपोर्ट के अनुसार, केएसई पहले नए आगमन के लिए परीक्षण करेगा और फिर उन लोगों के लिए जो देश के अंदर अपने वर्क परमिट को अपडेट करना चाहते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button