Placeholder canvas

देखते ही देखते आखिरकार क्यों लुढ़क गए हैं सोने के भाव, जानिए क्या है लेटेस्ट रेट

सोने के भाव में मौजूदा सप्ताह में कमी देखने को मिली है। दामों में गिरावट के भाग सोना 60,000 के ऊपर बना हुआ है। इससे पहले के कई हफ्तों में सोने के दामों में उछाल देखने को मिल रहा था।

मौजूदा सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन यानी कि शुक्रवार को सोने का भाव ₹60444 प्रति 10 ग्राम था। दूसरी तरफ पिछले कारोबारी हफ्ते के आखिरी दिन यानी कि 13 अप्रैल को 60,743 रुपए प्रति 10 ग्राम सोने का भाव को। पूरे सप्ताह के दौरान सोने के भाव प्रति 10 ग्राम 60,000 के ऊपर ही देखे गए हैं।

जानिए पूरे हफ्ते कितने रुपए में मिल रहा था सोना?

मौजूदा सप्ताह के कारोबारी दिन यानी कि सोमवार को सोना प्रति 10 ग्राम 60,709 रुपए में मिल रहा था। मंगलवार को 10 ग्राम सोना 60,479 रुपए पर बंद हुआ था।

जबकि बुधवार को सोने की रेट 60,373 रुपए प्रति 10 ग्राम थे। बृहस्पतिवार के दिन सोने के रेट 60,517 रुपए प्रति 10 ग्राम थे। शुक्रवार के दिन सोना 60,444 रुपए में प्रति 10 ग्राम में बिक रहा था। गौर करने वाली बात यह है कि हफ्ते के सभी दिनों सोने के भाव में बदलाव देखने को मिलता रहता है।

कितनी कम पड़ी हैं सोने की कीमतें?

लास्ट वीक के अंतिम कारोबारी दिन यानी कि शुक्रवार को सोने के दाम 60,446 रुपए प्रति 10 ग्राम पर थे। मौजूदा हफ्ते में सबसे ज्यादा रेट सोने का सोमवार को था जब सोना प्रति 10 ग्राम। 60,709 रुपए में मिल रहा।

जबकि बीते बुधवार को सोने के दामों में भारी कमी देखी गई थी और सोना हफ्ते के सबसे कम रेट पर मिल रहा था। बुधवार को सोना 60,373 रुपए में प्रति 10 ग्राम मिल रहा था।

ये भी पढ़ें :Gold Silver Price: सोने-चांदी की कीमतों में आई भारी गिरावट, खरीदने से पहले फटाफट चेक कर लें ताजा दाम

24 कैरेट गोल्ड के रेट से यहां जानें

इंडियन बुलियन ज्वेलर्स एसोसिएशन यानी कि आई बी जे ए के मुताबिक 24 कैरेट वाले गोल्ड के रेट 22 अप्रैल को अधिकतम 60,616 रुपए प्रति 10 ग्राम थे। दूसरी तरफ 22 कैरट वाले गोल्ड के सबसे ज्यादा रेट 60,373 रुपए थे।

यहां पर गौर करने वाली बात यह है कि यहां पर सभी तरह के सोने के दामों की गणना बगैर किसी भी टैक्स यानी कि ‘कर’ के की गई है। सोना खरीदने पर जीएसटी अलग से देना पड़ता है साथ में मेकिंग चार्ज भी चुकाना पड़ता है।

इसलिए आया है सोने की कीमतों में उछाल

गौरतलब है यूरोप और अमेरिका में बैंकिंग सेक्टर में संकट आने के कारण पूरे विश्व में मंदी की आशंका तेज हो गई है। स्थिति से निपटने के लिए दुनिया भर के केंद्रीय बैंकों में सोने की खरीदारी करना प्रारंभ कर दिया है।

ये भी पढ़ें :दुबई से कोई प्रवासी महिला या पुरूष कितना सोना ला सकता है भारत? आखिर क्या है यूएई में सोने के दाम

Leave a Comment