UAE से भारतीय प्रवासी अगर इन तरीकों को अपनाकर स्वदेश भेजते हैं पैसा, तो होगा बड़ा फायदा

UAE में कई लाख भारत प्रवासी रहते हैं और ये लोग यहां पर अच्छी नौकरी और ज्यादा पैसा कमाने के लिए जाते हैं। ये लोग यहां पर काम करने से दौरान अपने देश में अपने परिवार को पैसा भेजते हैं।

वहीं इस बीच इस पोस्ट के जरिये हम इस बात की जानकारी देने जा रहे हैं कि अगर आप इन तरीकों को अपनाकर अपने देश भारत पैसा भेजते हैं तो आपको बड़ा फायदा होगा।

इन तरीकों को अपनाकर भेजें पैसा, होगा बड़ा फायदा

पहला तरीका 

अगर आप मनी ट्रांसफर टूल के जरिए पैसा भेजते हैं तो मनी ट्रांसफर करना आपको महंगा नहीं पड़ेगा। वहीं इस टूल से पैसा भेजने से पहले आपको कई महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना पड़ेगा।

रुपये ट्रांसफर करने से पहले विनिमय दरों को चेक करना चाहिए क्योंकि विनिमय दर में लगातार उतार चढ़ाव होता रहता है इसलिए विदेश से धन भेजने के लिए स्थानांतरण शुल्क आवश्यक हो। फीस पर ध्यान दें। धन हस्तांतरण करने वाली कंपनियों की तुलना करें क्योंकि अलग-अलग कंपनियों की स्थानांतरित फीस अलग-अलग होती है। वहीं इन बातों को ध्यान ररखने आपको पैसा भेजना महंगा नही पड़ेगा।

दूसरा तरीका

सोमवार से शुक्रवार के दिन पैसे भेजने का अच्छा समय होता है क्योंकि वर्किंग वीक के दौरान पैसे ट्रांसफर करने के लाइव रेट मिलते हैं। इस वजह से सोमवार से शुक्रवार के दिन पैसे भेजने चाहिये।

वहीं इन दिनों विदेशी मुद्रा की दरों में लगातार उतार चढ़ाव होता रहता है। जो लोग हर महीने पैसा ट्रांसफर नहीं करते हैं वो समयानुसार सर्वोत्तम दर के लिए इंतजार कर सकते हैं और ऐसा करने उन्हें पैसे ट्रान्सफर करने पर ज्यादा शुल्क नहीं लगेगा।

तीसरा तरीका

अगर आप एनआरआई खाते से पैसा भेज सकते हैं अगर आप उतनी राशि भेजे जितनी आप चाहते हैं। विदेश में आपकी मेहनत की कमाई को आपके नियंत्रण में रखने की अनुमति देता है। यह आपको 24*7 हर समय कभी भी कहीं से भी सुरक्षित इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से खाता एक्सेस करने की सुविधा प्रदान करता है।

वहीं विदेशी खाते से अपने एनआरआई खाते में पैसे ट्रान्सफर करने के लिए कोई प्रतिबंध नहीं है। जिसकी मदद से आप आराम से पैसे भेज सकते हैं वहीं पैसे भेजने के लिए जिस बैंक में आपका खाता है उसके पास आपका विवरण पहले से ही होता है, जिस बैंक में आपको पैसा ट्रांसफर करना है उस बैंक को मोबाइल नंबर, स्विफ्ट कोड, आईबीएएन नंबर और पते की आवश्यकता होगी। ज्यादातर एक्सचेंज हाउस पासपोर्ट या आईडी कार्ड मांगते हैं। यह प्रक्रिया मनी लॉन्ड्रिंग या अन्य आपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए होती है।

Leave a Comment