Placeholder canvas

दुबई में टैक्सी ड्राइवर ने पेश की मिसाल, पुलिस को लौटाए मिले हुए Dh1 मिलियन, अब किया गया सम्मानित

Dubai में दो टैक्सी ड्राइवरों और एक आरटीए पार्किंग इंस्पेक्टर को उनकी ईमानदारी के लिए सम्मानित किया गया। सड़क और परिवहन प्राधिकरण (आरटीए) के कार्यकारी निदेशक मंडल के महानिदेशक और अध्यक्ष मत्तर मोहम्मद अल टायर ने उन्हें प्रमाण पत्र प्रदान किए और उनकी सेवाओं के लिए धन्यवाद दिया।

जानकारी के अनुसार, दुबई टैक्सी कॉरपोरेशन (DTC) की नैन्सी ओर्गो ने एक यात्री द्वारा कैब में छोड़े गए Dh1 मिलियन से भरा एक बैग दुबई पुलिस को सौंपा।

वहीं सड़क और परिवहन प्राधिकरण (आरटीए) के कार्यकारी निदेशक मंडल के महानिदेशक और अध्यक्ष मत्तर मोहम्मद अल टायर ने ट्वीट करते हुए कहा कि , “हमें आरटीए में इतनी ईमानदारी, अखंडता और नैतिकता वाले कर्मचारियों पर गर्व है।” पार्किंग निरीक्षक ओबेद मिफ्ताह अब्दुल्ला को उनके कर्तव्यों के पालन में समर्पण और ईमानदारी के लिए सम्मानित किया गया।

police

समारोह में सार्वजनिक परिवहन एजेंसी के सीईओ अहमद बहरोज़यान, दुबई टैक्सी कॉरपोरेशन (डीटीसी) के सीईओ मंसूर अल फलासी और यातायात के कार्यकारी निदेशक हुसैन अल बन्ना ने भी भाग लिया।

आपको बता दें, इससे पहले दुबई पुलिस ने एक भारतीय प्रवासी को उसकी ईमानदारी के लिए सम्मानित किया। दरअसल, दुबई पुलिस के एक शीर्ष अधिकारी ने एक भारतीय प्रवासी के इमानदारी के बारे में जानकारी देते हुए खुलासा किया है, कि एक भारतीय प्रवासी को लिफ्ट में दस लाख दिरहम की राशि मिली और इस राशि को उसने दुबई को लौटा दिया जिसके बाद दुबई पुलिस ने इस शख्स को उसकी इमानदारी के लिए सम्मानित किया है।

जानकारी के अनुसार, जिस भारतीय प्रवासी को दस लाख दिरहम की राशि मिली है उसका नाम तारिक महमूद खालिद महमूद है। वहीं ये राशि उसे अल बरशा में अपने आवासीय भवन में मिले बैग में मिली थी जिसको वापस करने के बाद दुबई पुलिस ने रविवार को प्रवासी को सम्मानित किया था।

ये भी पढ़ें- UAE में आज महंगा हुआ सोना, जानिए भारतीय रूपए में कितना पड़ेगा 22 और 24 कैरेट Gold का दाम

 

Leave a Comment