दुबई से Gold खरीदकर भारत क्यों लाते हैं लोग? जानिए वजह और क्या है कस्टम ड्यूटी के Rules

सोना (Gold) दुनिया की इंसानों द्वारा पसंद की जाने वाली सबसे कीमती धातु मानी जाती है। सोना (Gold) को हर इंसान अपनी तिजोरी में रखना चाहता है। सोने की खरीदारी त्योहारी सीजन में जमकर की जाती है। इसके साथ ही शादी विवाह के दौरान भी सोने की काफी डिमांड रहती है।

इसी वजह से घरेलू बाजारों में सोने के दामों में उतार-चढ़ाव भी देखने को मिलता है। तो वहीं, विदेशो से फ्लाइट से भारत आने वाले कई ऐसे यात्री भी होते हैं जो सोने की स्मगलिंग करके उसे अपने साथ लाते हैं जिसे कस्टम विभाग की टीम हवाई अड्डे पर बरामद कर लेती है।

ऐसे में,अक्सर सभी के मन में एक सवाल कौन सा रहता है कि जो भी सोना एयरपोर्ट पर पकड़ा जाता है तो वह दुबई से ही क्यों लाया जाता है। इस बारे में इसी आर्टिकल के जरिए हम आगे जानने की कोशिश करते हैं।

राजस्थान के जयपुर हवाई अड्डे पर दिसंबर में सामने आए थे 4 मामले

आपको बता दें कि 13 दिसंबर को काली मिर्च के पैकेट में गोल्ड के बिस्किट भरकर लाया था। तो वहीं,20 दिसंबर कोसूटकेस के पहियों में एक शातिर एक पैकेट में गोल्ड बिस्किट छिपाकर लाया था। जबकि 24 दिसंबर को शेविंग क्रीम इनमें से 5 गोल्ड बिस्किट मिले थे। और 29 दिसंबर को 55 वर्ष की एक महिला अंडर गारमेंट्स में तकरीबन 30 लाख का सोना छिपाकर भारत लाई थी। जिसे कस्टम विभाग की टीम ने एयरपोर्ट पर दबोच लिया था।

दुबई से गोल्ड लाने के पीछे की वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

दुबई से सोना (Gold) की स्मगलिंग करके भारत लाने की किसी की सबसे बड़ी वजह यह है कि वहां का रेट भारत के सोने के रेट से काफी कम है। आसान भाषा में समझिए जैसे दुबई में अगर 1 ग्राम सोना (Gold) की कीमत के बारे में आपको बताए तो वहां के सोने के 1 ग्राम की कीमत 216.00AED है और 10 ग्राम का रेट 2160AED है। इसको भारत के रेट से बदलने पर आपको 44107 रुपए खर्च करने पड़ेंगे।

अगर आपने दुबई में गोल्ड की खरीदारी की है तो आपको सोना ₹44000 के रेट में मिलता है जबकि भारत में सोने का रेट इससे कहीं अधिक है। भारत में गोल्ड की वर्तमान कीमत की बात करें तो यहां पर सोना प्रति 10 ग्राम 49000 के आसपास बिक रहा है। जबकि वहां पर आपको भारत के अनुपात में सोना खरीदने पर लगभग 6000 तक की कमी देखने को मिलती है।

दुबई में भारत के मुकाबले मिलता है शुद्ध सोना (Gold)

दुबई के सोने की खास बात यह है कि वहां का सोना पूरी दुनिया में सबसे शुद्ध सोना माना जाता है। इसका अर्थ यह हुआ कि अगर कोई व्यक्ति दुबई में 22 कैरेट का गोल्ड खरीदना है तो उसे भारत में 24 कैरेट के हिसाब से सेल कर सकता है। और इस तरह से प्रति 10 ग्राम उसे ₹8000 तक की बचत हो सकती है।

रुपयों के लालच में कामगार कर देते हैं सोना (Gold) की तस्करी

जयपुर एयरपोर्ट पर सहायक आयुक्त भारत भूषण पटेल के अनुसार दुबई और नार्थ ईस्ट के देशों में सोने की तस्करी के ज्यादातर मामलों को कामगार अंजाम देते हैं। यह कामगार खाड़ी देशों में काम करने के लिए जाते हैं और जब वापस आते हैं तो वहां पर किसी तस्कर के फंदे में फंस कर चंद रुपयों के लालच में तस्करी का सोना अपने साथ छुपाकर भारत ले आते हैं।

कैसे लाए दुबई से सोना (Gold)

अगर आप दुबई या फिर किसी अन्य देश से भारत सोना लाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कस्टम विभाग के बाकायदा नियम बने हुए हैं। साथ ही यात्री को एक डिक्लेरेशन फॉर्म भरना होगा और नियम के मुताबिक निर्धारित किए गए कस्टम ड्यूटी चुकाकर एक किलोग्राम तक सोना अपने साथ ला सकते हैं। कस्टम ड्यूटी की गणना यात्री के विदेश में बिताए समय और सोने की मात्रा आदि के आधार पर तय होती है।

Leave a Comment