skip to content

UAE: प्रवेश के लिए ‘green pass’ का होना आवश्यक, 15 जून से नियम लागू: जानिए कैसे करता है काम

हाल ही में अबू धाबी ने ने जानकारी देते हुए घोषणा करी है कि मंगलवार, 15 जून से केवल ‘ग्रीन पास’ धारकों को ही अधिकांश सार्वजनिक स्थानों पर प्रवेश की अनुमति होगी। वहीँ इस बीच खबर है कि ये नया नियम पर्यटकों पर भी लागू होगी।

जानकारी के अनुसार, अबू धाबी में अधिकांश सार्वजनिक स्थान पर मंगलवार, 15 जून से व्यक्तियों के अल होसन ‘ग्रीन पास’ की जाँच शुरू कर देंगे। वहीं अल होसन ऐप पर ‘ग्रीन पास’ एक नया रंग-कोडिंग सिस्टम है जो किसी व्यक्ति के टीकाकरण की स्थिति के साथ-साथ उसके पीसीआर परीक्षण की वैधता को दर्शाता है। वहीं प्रोटोकॉल को कोविड -19 प्रतिबंधों को कम करने और सुरक्षित आवाजाही और पर्यटन को बढ़ाने के लिए अनुमोदित किया गया है।

UAE: प्रवेश के लिए ‘green pass’ का होना आवश्यक, 15 जून से नियम लागू: जानिए कैसे करता है काम

इसी के साथ नागरिकों और निवासियों के अलावा, पर्यटकों को अल होसन ऐप भी डाउनलोड करना होगा। पर्यटक अल होसन के लिए अपनी एकीकृत पहचान संख्या (यूआईडी) के साथ पंजीकरण कर सकते हैं, जिसका उपयोग अधिकारियों द्वारा यूएई में प्रवेश करने वाले व्यक्ति की पहचान करने के लिए किया जाता है। यूआईडी या तो किसी के पासपोर्ट पर प्रवेश टिकट पर या वीजा पृष्ठ पर पाया जा सकता है। यह हवाई अड्डे पर आव्रजन अधिकारियों द्वारा भी प्रदान किया जा सकता है।

वहीं सभी टीके लगाए गए पर्यटकों को अल होसन ऐप का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है ताकि यह साबित हो सके कि उन्होंने अपने देश में वैक्सीन की खुराक ली है। पर्यटक ऐप पर अपने वीज़ा पर सूचीबद्ध अपना ‘एकीकृत नंबर’ (यूआईडी) पंजीकृत कर सकते हैं।

UAE: प्रवेश के लिए ‘green pass’ का होना आवश्यक, 15 जून से नियम लागू: जानिए कैसे करता है काम

अल होसन अधिसूचना के अनुसार, पर्यटक अपने स्मार्टफोन पर इलेक्ट्रॉनिक प्रमाण पत्र दिखा कर भी टीकाकरण की स्थिति साबित कर सकते हैं। वहीं असंबद्ध पर्यटक अल होसन ऐप को डाउनलोड और उपयोग भी कर सकते हैं। संयुक्त अरब अमीरात में उतरने के लिए टीकाकरण अनिवार्य आवश्यकता नहीं है।

आपको बता दें, सोमवार को, स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्रालय ने अल होसन पास के लिए छह अलग-अलग श्रेणियों को निर्दिष्ट करते हुए रंग-कोडिंग प्रोटोकॉल को मंजूरी दी। मंत्रालय ने संघीय और स्थानीय अधिकारियों को इसका उपयोग निर्धारित करने की अनुमति दी।

UAE: प्रवेश के लिए ‘green pass’ का होना आवश्यक, 15 जून से नियम लागू: जानिए कैसे करता है काम

वहीं श्रेणियों में पूरी तरह से टीका लगाया हुआ, दूसरी खुराक प्राप्त करने वाले, पहली खुराक प्राप्त करने वाले दूसरी खुराक की नियुक्ति की प्रतीक्षा कर रहे हैं या उनकी दूसरी खुराक नियुक्ति के लिए देर हो चुकी है, जो टीका प्राप्त करने से मुक्त हैं, और गैर-टीकाकरण चीजें शामिल हैं।

वहीं हरे रंग के पास को उन सभी के लिए सक्रिय किया जा सकता है, जिन्हें नकारात्मक पीसीआर परीक्षा परिणाम मिलता है, लेकिन जिस अवधि के लिए यह सक्रिय रहता है वह टीकाकरण की स्थिति के आधार पर भिन्न होता है। उदाहरण के लिए, जिन लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है, उनके पास नकारात्मक पीसीआर परीक्षा परिणाम आने के बाद 30 दिनों के लिए ग्रीन पास हो सकता है, जबकि जिन लोगों का टीकाकरण नहीं हुआ है, वे इसे केवल तीन दिनों के लिए प्राप्त कर सकते हैं।

इसी के साथ अबू धाबी नई प्रणाली को लागू करने की रणनीति की घोषणा करने वाला पहला अमीरात बन गया है। मंगलवार से, एक पर्यटक को अबू धाबी के शॉपिंग मॉल और बड़े सुपरमार्केट, जिम, होटल और सुविधाओं, सार्वजनिक पार्कों और समुद्र तटों, निजी समुद्र तटों और स्विमिंग पूल, मनोरंजन केंद्र, सिनेमा और संग्रहालय, और रेस्तरां और कैफे में प्रवेश करने के लिए एक हरे रंग के पास की आवश्यकता होगी, वहीं अलग से, मौजूदा नियम के अनुसार, एक व्यक्ति को अभी भी 48 घंटों के भीतर अन्य अमीरात से अबू धाबी में प्रवेश करने के लिए एक पीसीआर परीक्षा परिणाम प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है, और प्रवेश के दिन 4 और 8 पर परीक्षण का एक और दौर होता है। परीक्षा नहीं देने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा।

पर्यटकों के लिए अल होसन ऐप का उपयोग शुरू करने के लिए तीन कदम

1। यूएई पहुंचने से पहले या बाद में ऐप डाउनलोड करें।

2। एकीकृत पहचान संख्या (यूआईडी) और मोबाइल फोन नंबर का उपयोग करके खाते के लिए पंजीकरण करें।

3। ब्लूटूथ चालू करें और फोन पर नोटिफिकेशन पुश करें।