कुवैत में नौकरी दिलाने का झांसा देकर 10.56 लाख रुपए की ठगी, अब पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

पंजाब के अमृतसर से नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने का मामला प्रकाश में आया है। यहां की मकबूल पुरा थाने की पुलिस ने शिकायत के आधार पर कुवैत में नौकरी दिलाने का झांसा देकर 10.56 लाख रुपए हड़पने वाले दो ट्रेवल एजेंटों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी अभिमन्यु राणा ने जानकारी देते हुए बताया कि ठगों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने दर्ज किया मामला

fraud

बटाला रोड के रहने वाले वरिंदर सिंह की तहरीर पर पुलिस ने बटाला के रहने वाले शुभम भगत और श्री हरगोविंदपुर के रहने वाले गुरदयाल सिंह को ठगी के आरोप में नामजद किया गया है। ठगी का शिकार होने वाले वरिंदर सिंह ने पुलिस को जानकारी देते हुए बताया कि कुछ वर्षों पहले उन्होंने शुभम भगत और उनके दोस्त गुरदयाल से दोस्ती की थी।

आरोपियों ने उन्हें इस बात की जानकारी दी थी कि वह लोगों को विदेश में नौकरी दिलाने का व्यापार करते हैं और वह उन्हें भी कुवैत में एक अच्छी नौकरी दिला सकते हैं।

इसके बाद आरोपियों ने उस शख्स से 10.56 लाख रुपए वीजा बनवाने और पासपोर्ट के लिए ले लिए। मगर काफी समय गुजर जाने के बाद भी उन्होंने ना तो उसे विदेश भेजा और ना ही पैसे वापस किए।

नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी के मामले आते रहते हैं सामने

आपको बताते चलें कि इस तरीके के मामले प्रकाश में आते रहते हैं कि ठगों द्वारा नौकरी दिलाने के नाम पर द्वारा नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों के पैसे हड़प लिए जाते हैं और पैसा ना देने पर मामला पुलिस के पास पहुंचता है।

पुलिस रिपोर्ट दर्ज करके मामले की छानबीन करके आरोपियों को हिरासत में लेकर पीड़ितों को उनकी राशि वापस दिलाने के लिए मजबूर करती है। लेकिन कई मामले ऐसे भी सामने आते हैं जिनमें आरोपी महीनों तक फरार रहते हैं और ठगी का शिकार होने वाले लोग दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर रहते हैं।

Leave a Comment