प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का UAE दौरा स्थगित, 6 जनवरी को दुबई एक्सपो में लेना था हिस्सा

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यूएई का दौरा टल गया है। पीएम मोदी को 6 जनवरी को संयुक्त अरब अमीरात रवाना होना था। दुबई पहुंच कर उन्हें दुबई एक्सपो में भी हिस्सा लेना था। हालांकि, किन वजहों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह दुबई दौरा टला है। इसकी आधिकारिक वजह है अभी सामने नहीं आई हैं।

आपको बता दें कि संयुक्त अरब अमीरात यानी कि दुबई में दुबई एक्सपो का आयोजन हो रहा है। दुबई में चल रहे दुबई एक्सपो में इंडियन पवेलियन द्वारा इंडिया की उपलब्धियों के बारे में लोगों को बताया जाता है। इस पवेलियन का दौरा विदेश मंत्री एस जयशंकर और केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी के अलावा तमाम दिग्गज कर चुके हैं।

गौरतलब है कि अज्ञात कारणों से पीएम मोदी का दुबई द्वारा टल गया है मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि दुबई एक्सपो 2020 में जो भारतीय पवेलियन बना है। उसमें उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले में बन रहे भव्य राम मंदिर का भी एक प्रतिमान (MODEL) रखा गया है और वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर और वाराणसी की घाट को भी दिखाया गया है।

भारतीय पवेलियन में अबू धाबी में निर्माणाधीन स्वामीनारायण मंदिर का भी एक प्रतिरूप रखा गया है। आपको बता दें कि वाराणसी में बन रहे स्वामीनारायण मंदिर का भूमिपूजन और शिलान्यास स्वयं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2018 में किया था।

इसके अलावा पीएम मोदी ने साल 2015 में अपने यूएई दौरे दौरे पर गए थे उसी दौरान यूए की सरकार ने अबू धाबी के स्वामीनारायण मंदिर के लिए 20 हजार वर्ग मीटर की जमीन का आवंटन किया था। पीएम मोदी जब अगले महीने के दौरे पर जाकर इंडियन पवेलियन का दौरा करेंगे तो मंदिर निर्माण से जुड़े यह मॉडल भी चर्चा का केंद्र रहेंगे।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब मार्च 2020 में बांग्लादेश की आजादी के स्वर्ण जयंती समारोह में शिरकत करने के लिए ढाका गए थे। उसी दौरान भारत के पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव हो रहे थे। इसी दौरान उन्होंने बांग्लादेश में 2 धार्मिक स्थलों का भी दौरा किया था।

बांग्लादेश की राजधानी ढाका से तकरीबन 200 किलोमीटर की दूरी पर स्थित सत खीरा के जेशोशरी काली मंदिर गए हुए थे। आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल के निवासियों के मन में माता काली को लेकर आज भी श्रद्धा है। ऐसे में बंगाल की राजनीति में खास दबदबा रखने वाले मतुआ समुदाय को चुनावी संदेश देने के लिए पीएम मोदी बांग्लादेश दौरे पर ओरकांडी में अथवा संप्रदाय के सबसे प्राचीन धार्मिक स्थल का भी दौरा किए थे।

गौरतलब है कि पीएम मोदी अपने दुबई दौरे के दौरान जिस भारतीय पवेलियन को देखने जाने वाले थे। वहां पर भारत के राम मंदिर का मॉडल रखा हुआ है। इसके अलावा भारत के योग अंतरिक्ष कार्यक्रम और तकरीबन ढाई ट्रिलियन वाली भारतीय अर्थव्यवस्था के साथ भारतीय कला संस्कृत को भी खूबसूरत ढंग से उकेरा गया है। राम मंदिर के प्रतिमान के अलावा यहां पर वाराणसी के स्वामीनारायण मंदिर का भी एक मॉडल रखा गया है।

Leave a Comment