skip to content

UAE जानें वाले भारतीय प्रवासियों के लिए अच्छी खबर, अब नौकरी खोजना हुआ आसान, मिलेंगे ये बड़े फायदे

संयुक्त अरब अमीरात (United Arab Emirates) की सरकार ने पिछले दिनों ही नया वीजा सिस्टम लागू किया था। यह योजना पिछले सोमवार से लागू हो गई है। नए वीजा रूल्स से 10 साल के लिए मान्य गोल्डन वीजा, स्किल्ड लेबर के लिए 5 साल का ग्रीन रेजिडेंसी और मल्टीपल एंट्री वाला टूरिस्ट वीज़ा हैं।

आपको बताते चलें कि मल्टीपल एंट्री वीजा के जरिए कोई भी व्यक्ति 90 दिनों तक यूएई में रह सकता है। संयुक्त अरब अमीरात की इमीग्रेशन रूल्स (Immigration rules) में भी बदलाव किए गए हैं जिनका सीधा असर पर्यटकों पर प्रभाव डालेगा। इस नियम से उन पर प्रभाव पड़ेगा जो यूएई में आकर काम करना चाहते हैं या फिर रहना चाहते हैं।

परिवार के सदस्यों को भी रख सकते हैं साथ

आपको बताते चलें कि नए इमीग्रेशन रूल्स 5 साल का ग्रीन वीज़ा विदेश के लोगों को UAE के लोगों या किसी एम्पलाई के बगैर खुद को स्पांसर करने की अनुमति प्रदान करता हैं। यह वीज़ा कुशल कर्मचारी, फ्रीलांसर और निवेशक के लिए ही है। साथ ही ग्रीन वीज़ा प्राप्त करने वाले लोग अपने परिवार के सदस्यों को भी साथ रख सकते हैं। मान लीजिए कि जब भी ग्रीन वीजा एक्सपायर होगा तब उसके बाद 6 महीने तक की अवधि बढ़ाई जाएगी।

ये फायदे मिलते हैं गोल्डन वीज़ा धारक को

जिन भी लोगों के पास UAE का गोल्डन वीज़ा है। उन्हें संयुक्त अरब अमीरात की सरकार खास तरीके की सुविधाएं मुहैया कराती है। ये वीज़ा निवेशक, बिजनेसमैन और विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिभाशाली व्यक्तियों को दिया जाता है। गोल्डन वीज़ा धारक अपने परिवार के सदस्य और बच्चों को स्पॉन्सर कर सकता है। गोल्डन वीजा का फायदा वीजा धारक के परिवार को उस दौरान भी मिलता है गोल्डन वीज़ा धारक की मृत्यु भी हो जाती है। इस वीजा के धारक के परिवार को दुबई में रहने की अनुमति मिलती है।

संयुक्त अरब अमीरात में नौकरी ढूंढने में मिलेगी मदद

अब जब से दुबई में नई वीज़ा पॉलिसी लागू की गई है तब से पर्यटक वीज़ा की मदद से दुबई में 60 दिनों तक निवास कर सकते हैं। जबकि 5 साल के मल्टीपल एंट्री वाले वीज़ा धारक को 90 दिनों तक यूएई में रहने की छूट है। जॉब एक्सप्लोरेशन वीज़ा पेशेवरों को बगैर किसी होस्ट के देश में एंट्री और नौकरी की तलाश करने में मदद करेगा।