skip to content

Gold के दाम में एक महीने की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज, चांदी के रेट में भी आयी कमी

भारत में सोने (Gold) और चांदी की कीमतों में कमी आई है। सोने और चांदी के दामों में कमी के पीछे अमेरिका की फेडरल बैंक के चेयरमैन के उस स्टेटमेंट को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। उन्होंने ब्याज दरों में बढ़ोतरी की संभावना जताई थी।

आपको बताते चलें कि अमेरिका की फेडरल बैंक महंगाई को नियंत्रण में रखने के लिए ब्याज दर बढ़ाने की संभावनाएं बता रही है। उनकी इस संभावना का असर सीधे तौर पर तेल और सोने और चांदी के रेट पर देखने को मिल रहा है।

बीते सोमवार को एमसीएक्स पर गोल्ड 1 माह के अपने निचले स्तर पर पहुंच गया है और उसमें 0.5 फ़ीसदी की कमी आई है। जिसके चलते 50,970 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। दूसरी तरफ चांदी की कीमत में 1.3 डॉलर की कमी आई है। जिसके चलते 1 किलो ग्राम चांदी खरीदने के लिए लोगों को 54063 रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय दामों में कमी के साथ शुक्रवार को सोने के दाम में लगभग ₹500 की गिरावट देखी गई।

डॉलर इंडेक्स दो दशक के उच्च स्तर पर

GOLD

इंटरनेशनल मार्केट में अमेरिकी डॉलर की मजबूती के बीच बीते सोमवार को Gold के दाम में कमी आई। गोल्ड 0.3 फीसदी लुढ़कर 1,732.17 डॉलर प्रति औंस पर आ गया। ऐसा इसलिए क्योंकि डॉलर इंडेक्स 20 सालों के उच्च स्तर 109.29 के पास पहुंच गया। दूसरी तरफ डॉलर में तेजी दर्ज की गई।

इसकी कीमतों में तेजी दुनिया की अन्य दूसरी मुद्राओं को रखने वालों के लिए बुलियन को ज्यादा महंगा बनाता है। चांदी 1 फीसदी लुढ़ककर 18.69 डॉलर प्रति औंस पर चली गई हैं। वहीं प्लैटिनम में एक फीसदी की कमी आई है। जिसके चलते प्लैटिनम 855.27 डॉलर पर आ गया है।

ये है कारण जिसके चलते दाम में आई कमी

Gold-Silver Price

आपको बताते चलें कि Gold और चांदी में कमी के पीछे सबसे बड़ा कारण यह है कि अमेरिकी फेड की ब्याज की दरों में भी बढ़ोतरी हुई है। हाल ही के दिनों में इतनी वृद्धि देखी गई और इसमें और भी बढ़ोतरी करने की संभावना भी जताई गई है। जिसके बारे में हाल ही में फेड के चेयरमैन ने इशारा भी किया है।

ब्याज की दरों में तेजी का असर इंडियन मार्केट में भी देखने को मिल सकता है। जो वर्तमान में दिख भी रहा है। अमेरिकी फेड ने ओवरनाइट ब्याज दरों को 4 बार बढ़ाया है। और इस बढ़ोतरी को इस दशक में सबसे ज्यादा बड़ी महंगाई को काबू में करने के लिए किया गया है। लेकिन अब तक इस पर कोई भी सकारात्मक परिणाम नहीं मिले हैं।

Gold-Silver Price

ध्यान देने वाली बात यह है कि पिछले हफ्ते देश में Gold की कीमतों पर $7 प्रति औंस तक की छूट देने की बात कह रहे थे। और यह पिछले सप्ताह के 4 डालर की छूट से ज्यादा थी। देश में गोल्ड के दामों में 15 फ़ीसदी आयात और तीन परसेंट जीएसटी शामिल है।

दूसरी तरफ इससे पहले दिल्ली सराफा बाजार में शुक्रवार को Gold के दाम ₹254 घटकर 52,031 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गए थे। आपको बताते चलें कि बीते कारोबारी सत्र में गोल्ड के दाम 52,285 प्रति 10 ग्राम थे। चांदी में ₹21 की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी जिसके साथ चांदी 55 979 रुपए के दाम पर बिक रही है। दूसरी तरफ पिछले कारोबारी सत्र में चांदी की कीमत ₹55958 प्रति किलोग्राम थी।