फ्लाइट की टिकट में शामिल होते हैं यह 5 तरह के चार्ज, जानकर हो जाएंगे आप हैरान

अगर आप फ्लाइट के जरिए सफर करते हैं और इसके लिए आपको पेमेंट भी वन गो में करनी पड़ती है। मगर क्या आपने इस ओर कभी ध्यान दिया है कि उड़ान की एक सीट के बदले में चुकता किए जाने वाले रुपयों में कौन-कौन से चार्ज शामिल होते हैं।

आपका ध्यान शायद ही इस तरफ कभी गया हो। लेकिन हम आपको इस आर्टिकल के जरिए आज बताने जा रहे हैं की फ्लाइट की टिकट में कई तरह के चार्ज इंक्लूड होते हैं। इन सारे चार्जेस को मिलाकर टिकट लेने के लिए बदले में पैसेंजर को एयरलाइन को एक तयशुदा कीमत चुकानी होती है। डीजीसीए ने इसके बारे में बताया है कि टिकट में कितने तरह के चार्ज शामिल किए जाते हैं?

एयरलाइन का चार्ज होता है शामिल

FLIGHT

डीजीसीए की ऑफिशियल वेबसाइट के अनुसार, प्रत्येक एयरलाइन बेस फेयर, कामन यूजर टर्मिनल इक्विपमेंट (अगर एप्लीकेबल हो), एयरलाइन फ्यूल चार्ज और कन्वीनियंस चार्ज के अतिरिक्त अन्य कई तरीके के चार शामिल होते हैं। जो एयरलाइंस अपने पैसेंजर से टिकट के बदले में लेती है।

एयरपोर्ट अथॉरिटी का देना होता है चार्ज

उड़ान के टिकट के बदले में दिए जाने वाले रुपए में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया का विचार शामिल होता है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया आप से पैसेंजर सर्विसेस की फीस भी लेता है। ऐसे में कहा जा सकता है फ्लाइट की एक टिकट में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया का भी शेयर शामिल होता है।

एयरपोर्ट ऑपरेटर की फीस फीस होती है टिकट में इंक्लूड

हवाई सफर करने वाला कोई भी व्यक्ति टिकट की बुकिंग करता है तो एयरलाइन और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के साथ-साथ एयरपोर्ट ऑपरेटर की भी फीस उसमें शामिल रहती है। इस बीच में एयरपोर्ट डेवलपमेंट फीस और यूजर डेवलपमेंट शुल्क भी शामिल होता है।

…और ये शुल्क लेती है गवर्नमेंट

आपको बताते चलें कि आर्टिकल में ऊपर बताए गए सुख के साथ सरकार भी अपना खजाना भरने के लिए सर्विस टैक्स लगाती है। आप उड़ान की जिस टिकट की बुकिंग करते हैं उस टिकट के पैसों में सरकार का भी शेयर शामिल होता है यानी कि सरकार की भी उस टिकट में हिस्सेदारी होती है। सरकार पैसेंजर की टिकट में अपना सर्विस टैक्स लेती है। और इन सारी चीजों को जोड़कर टिकट का अंतिम मूल्य तय किया जाता है।

ऑप्शनल चार्ज

गौरतलब है कि फ्लाइट टिकट की कीमत अदा करने के बाद कुछ ऑप्शनल चार्ज भी होते हैं। जिनमें आपकी मनपसंद सीट, फूड, स्नैक्स और ड्रिंक्स वगैरह शामिल। जबकि कुछ पैसेंजर एयरलाइन का लाउंज, चेक इन बैगेज और स्पोर्ट्स इक्विपमेंट चार्ज भी अदा करते हैं।

Leave a Comment